EK Parivar EK Naukri Yojana: एक परिवार में एक सरकारी नौकरी यहां से जाने संपूर्ण जानकारी

Telegram Channel Join Now

EK Parivar EK Naukri Yojana: एक सोशल मीडिया और यूट्यूब पर एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें दावा किया जा रहा है कि मोदी सरकार ने बेरोजगारी को कम करने के लिए एक नई योजना लाई है। इस वीडियो में इस योजना की प्रशंसा की जा रही है और लोगों को इसे अधिक से अधिक शेयर करने के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा है। लेकिन ध्यान दें, यह वीडियो पूरी तरह से सत्य नहीं है।

पीआईबी ने इस वीडियो की जांच की है और इसके दावों की सच्चाई सामने आई है। इसलिए, इस वायरल वीडियो की सच्चाई को जानने के लिए आपको इस लेख को अंत तक पढ़ना चाहिए। हम इस पोस्ट में आपको एक परिवार एक नौकरी योजना की सच्चाई के बारे में बताएंगे। अगर आपको भी इस वीडियो के दावों में संदेह है, तो कृपया इस लेख को पढ़ें।

EK Parivar EK Naukri Yojana

बेरोजगारी एक बड़ी समस्या है जो हमारे देश में लाखों, या शायद करोड़ों, लोगों को परेशान कर रही है। युवा इस समस्या के प्रमुख पीड़ित हैं, क्योंकि बहुत से पढ़े-लिखे युवा बेरोजगार हैं और अच्छी नौकरी प्राप्त करने में समस्या उठा रहे हैं। इस दुविधा में, कुछ लोग इस स्थिति का लाभ उठा रहे हैं और ऑनलाइन फ्रॉड के माध्यम से लोगों को धोखा दे रहे हैं।

एक ऐसा फ्रॉड योजना है जिसे ‘एक परिवार एक नौकरी’ नाम दिया गया है। इस धोखाधड़ी की योजना ने सोशल मीडिया पर तेजी से फैलाव पाया है, जहां दावा किया जा रहा है कि मोदी सरकार हर परिवार के एक सदस्य को नौकरी दे रही है। यह दावा बेहद भ्रामक है और लोगों को धोखा देने का एक और तरीका है।

यह भी पढ़ें लखपति दीदी योजना शुरू

एक परिवार एक नौकरी योजना की सच्चाई

सोशल मीडिया पर एक परिवार एक नौकरी योजना संबंधित वीडियो वायरल हो रहा है, जो बिल्कुल फर्जी है। इसलिए आपको इस तरह के वीडियो से खुद को बचाना चाहिए और दूसरों को भी इसे शेयर नहीं करने की सलाह देनी चाहिए। अगर आप इस तरह के फर्जी वीडियो को दूसरों के साथ साझा करते हैं, तो आप धोखा हो सकता हैं। इसलिए, अगर आपके पास इस तरह का कोई संदेश आता है, तो आपको उस पर विश्वास न करें। पहले आपको इसकी सच्चाई की जांच करनी चाहिए। हालांकि, यह सत्य है कि बेरोजगारी की समस्या हमारे देश में बढ़ रही है, लेकिन यह नहीं मतलब है कि आपको किसी भी झूठे पोस्ट पर विश्वास करना चाहिए।

यह भी पढ़ें किसी भी स्कूल में कर पाएंगे अब बच्चों का एडमिसन

पीआईबी ने योजना की जांच की है।

एक नौकरी एक परिवार योजना की वीडियो यूट्यूब पर काफ़ी तेजी से वायरल हो रही है। इसका मैसेज भी बहुत सारे लोगों तक पहुंच चुका है। परंतु, पीआईबी फैक्ट चेक ने इस योजना की सच्चाई को जांचकर उसे झूठा और फर्जी पाया है। उन्होंने अपने ट्विटर हैंडल के माध्यम से युवाओं को इसकी सही जानकारी दी है। पीआईबी ने बताया कि केंद्र सरकार द्वारा एक परिवार एक नौकरी योजना का संचालन नहीं हो रहा है और यह योजना भी फर्जी है। वे सभी युवाओं से अपील कर रहे हैं कि इस योजना पर ध्यान न दें और सोशल मीडिया पर इसका प्रचार न करें। यह फर्जीबाज़ी की चाल है, जिसका उद्देश्य भोले-भाले युवाओं को धोखा देकर पैसा लूटना है।

वायरल मैसेज को क्रॉस चेक कैसे करें

पीआईबी ने लोगों के सामने एक परिवार एक नौकरी योजना की सच्चाई पेश की है। उन्होंने सभी देशवासियों से अपील की है कि वे सतर्क रहें और अगर किसी फर्जी मैसेज का सामना हो, तो उस पर जल्दी भरोसा न करें। सभी मैसेजों को पहले क्रॉस चेक करके उनकी सच्चाई की जांच करें।

अपनी व्यक्तिगत जानकारी जैसे कि आधार कार्ड विवरण, पैन कार्ड विवरण, बैंक अकाउंट विवरण किसी अज्ञात व्यक्ति से साझा न करें। सरकारी योजनाओं की जानकारी प्राप्त करने पर उन्हें पहले से ही वेरिफाई करें। आप इसे योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर या केंद्र सरकार की आधिकारिक वेबसाइट या सोशल मीडिया प्लेटफ़ॉर्म से जाकर प्राप्त कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें Indira Gandhi Pyari Behna Samman Nidhi Yojana

Telegram Channel Join Now

Leave a Comment